नाबालिग बच्ची से 22 लोगों ने 7 माह तक किया गैंगरेप

चेन्नई:  देशभर में महिलाओं और बच्चियों के साथ हो दुष्कर्म की घटना कम होने का नाम नहीं ले रही है। सरकार के तमाम प्रयासों के बावजूद इन अपराधिक मामले बढते ही जा रहे है। चेन्नई के अयानवरम इलाके से एक ऐसी घटना सामने आई है जो आपके रोंगटे खड़े कर देगी। यहां एक नाबालिग बच्ची के यौन शोषणा की दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है।

12 वर्षीय मासूम बच्ची के साथ 22 दरिंद्रों ने 7 महीनों तक रेप किया। आपको यह जानकर हैरान होगी कि रेप करने वाले हैवानों में अपार्टमेंट में तैनात सिक्योरिटी गार्ड, लिफ्ट ऑपरेटर, प्लंबर और यहां तक रोजाना पानी सप्लाई करने वाले शामिल है।
हैरानी की बात यह है कि अपार्टमेंट में 7 महीने से मासूम के साथ रेप होता रहा और किसी को भनक तक नहीं लगी। बताया जा रहा है कि आरोपी नाबालिग बच्ची को नशीला पदार्थ खिलाकर अह्यचेत कर देते, फिर उसके साथ हैवानियत का खेल खेलते। इस मामले का खुलासा तब हुआ जब बच्ची ने मां और बहन को आपबीती बताई। बच्ची की मां ने महिला पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
जिसके बाद अपार्टमेंट में काम करने वाले 18 लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस बाकी आरोपियों की तलाश में जुड़ी हुई है।
बच्ची ने बताया कि आरोपी उसे नशीला पदार्थ खिलाकर अचेत कर देते और उसके बाद उसके साथ रेप करते। बच्ची ने बताया कि आरोपी उसे कभी नशीला इंजेक्शन लगा देते तो कभी नशीला कोल्ड ड्रिंक पिला देते। यहां तक मासूम को कुछ नशीला पावडर सुंघाकर भी अचेत कर देते। आरोपी न सिर्फ बच्ची के साथ रेप करते बल्कि इस दौरान उन्होंने मासूम के कई अश्लील वीडियो भी बनाए। आरोपियों ने जान से मारने की धमकी देने के अलावा मासूम को उसका अश्लील वीडियो इंटरनेट पर अपलोड करने का डर भी दिखाया।
सातवीं में पढऩे वाली पीडि़त बच्ची आखिरकार जब अपने साथ हो रहे अत्याचारों को नहीं झेल पाई तो उसने बीते शनिवार को स्कूल से लौटते वक्त अपनी बहन को पूरी बात बता दी. पीडि़त बच्ची ने पुलिस को बताया कि अपार्टमेंट में तैनात 66 साल के लिफ्ट ऑपरेटर रवि कुमार ने सबसे पहले उसके साथ रेप किया।

Facebook Comments