सऊदी अरब में ऐतिहासिक दिन, महिलाएं सड़कों पर चलाएंगी गाड़ियां

रियाद:  सऊदी अरब में महिलाओं को वाहन चलाने की अनुमति मिल गई है। ‘बीबीसी’ की रिपोर्ट के अनुसार, इस बदलाव की घोषणा पिछले साल सितंबर में हुई थी और सऊदी अरब ने इस माह की शुरुआत में महिलाओं के लिए पहली बार लाइंसेस जारी किया था।
यह पूरे विश्व में अकेला देश था जहां महिलाओं को वाहन चलाने पर पाबंद थी। प्रतिबंध के हटने पर खुशी जाहिर करते हुए फार्मेसी की एक छात्रा हतून बिन दाखिल (21) ने कहा, “बाहर जाने के लिए ड्राइवर का इंतजार करने के दिन अब खत्म हो गए। अब हमें किसी पुरुष की जरूरत नहीं है।”

इसी के साथ यह देश महिलाओं के गाड़ी चलाने पर लगे प्रतिबंध को हटाने वाला दुनिया का अंतिम देश बन जाएगा। देश के इतिहास में यह एक ऐतिहासिक दिन रहने वाला है, क्योंकि 60 से अधिक वर्षों से महिलाएं यात्री सीट पर ही बैठा करती थीं। खाड़ी देश में 1.51 करोड़ महिलाएं पहली बार सडक़ों पर गाड़ी लेकर उतरने में सक्षम हो सकेंगी।

सऊदी अरब ने सितंबर 2017 में महिलाओं के गाड़ी चलाने पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया था। यह फैसला क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के विजन 2030 कार्यक्रम का हिस्सा है, ताकि अर्थव्यवस्था को तेल से अलग कर सऊदी समाज को खोला जा सके। जेद्दाह की एक महिला हम्सा अल-सोनोसी ने कहा, ‘‘मैंने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि मैं अपनी जिंदगी में इस दिन को देख पाउंगी।’’ जेद्दाह महिलाओं को लाइसेंस देने वाला देश का दूसरा शहर है। उन्होंने कहा, ‘‘लोग इस दिन के लिए विदेशों से वापस आ रहे हैं। यह ऐतिहासिक है।’’

Facebook Comments