आईटी की सबसे बड़ी रेड : 160 करोड़ रुपये नकद और 100 किलो सोना जब्त

चेन्नई:  आयकर विभाग टीम ने चेन्नई में बहुत बड़ी छापेमारी को अंजाम दिया है। इस छापेमारी के दौरान आयकर विभाग ने अरबों की ब्लैक मनी का खुलासा किया है। सोमवार को एक पार्टनरशिप फर्म एसपीके एंड कंपनी पर सोमवार को छापेमारी की। राज्य राजमार्ग विभाग के लिए अनुबंध कार्य करने वाली फर्म के पास से 160 करोड़ रुपये नकद और करोड़ों के मूल्य का करीब 100 किलो सोना जब्त किया है।

इस छापेमारी को इस साल की और नोटबंदी के बाद सबसे बड़ी रेड बताया जा रहा है। आपको बता दें कि दिसंबर 2016 में भी चेन्नई में आयकर विभाग की टीम ने छापे में 106 करोड नगद और 123 किलो सोना बरामद किया था।

अधिकारी ने बताया कि सोमवार सुबह से चेन्नई, अरुपुकोत्ताई, वेल्लोर और मदुरै में सौ से ज्यादा अधिकारी 20 से ज्यादा एसपीके कैंपसेज में छापेमारी कर रहे हैं। ऑपरेशन पार्किंग मनी नाम के इस ऑपरेशन के मंगलवार को भी जारी रहने की उम्मीद है। एसपीके समूह के प्रमोटरों में से एक नागराजन सेयादुराई है। कॉर्पोरेट मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, वह सडक़ अनुबंध कार्य (कॉन्ट्रैक्ट वर्क) में शामिल कंपनियों में से एक में भागीदार है। सेयादुराई एक प्रमुख एआईएडीएमके नेता का करीबी रिश्तेदार भी है।

सेयादुराई द्वारा प्रचारित फर्म कई बड़ी राज्य राजमार्ग परियोजनाओं में शामिल हैं। अधिकारी ने कहा, कर चोरी के बारे में जानकारी के आधार पर छापेमारी की गई। कुछ घंटों के भीतर, हमें नकद में 80 करोड़ रुपये मिले। आईटी विभाग के अधिकारी ने कहा, हमें चेन्नई में ग्रुप डायरेक्टर्स के कार्यालयों और घरों में कई बंडलों में नकदी मिली है। उन्होंने कहा कि सोने के आभूषणों के अलावा उनके पास सोने के बिस्किट भी मिले हैं।

Facebook Comments