कुंबले ने खोजा था ये ‘स्पेशल स्पिनर’, हाथ बेकार फिर भी कर रहा ‘चमत्कार’

बेंगलूरु:   बेंगलूरु में भारत के साथ होने वाले टेस्ट मैच से पहले अफगानिस्तान टीम की मुलाकात एक ऐसे गेंदबाज से हुई जिसने क्रिकेट के जुनून के आगे सभी परेशानियों को पीछे छोड़ दिया। दिव्यांग शंकर सज्जन के दोनों हाथ खराब हैं लेकिन बावजूद इसके प्रैक्टिस के दौरान उन्होंने अपनी गुगली से अफगानिस्तान के बल्लेबाजों को परेशान कर दिया। हाथ खराब होने के बावजूद शंकर ने अफगान टीम को जिस तरह से गेंदें डालीं, वह सभी खिलाडिय़ों के लिए हैरान करने वाला था।
बता दें कि क्रिकेट की दुनिया में शंकर को लोग पहले से जानते हैं। दरअसल, साल 2015 में जाने-माने स्पिनर अनिल कुंबले ने स्पिन स्टार कैंप लगाया था। उसमें शंकर ने न सिर्फ हिस्सा लिया बल्कि खूब सुर्खियां भी बंटोरी। कुंबले ने खुद शंकर की तारीफ की थी।

छोटी उम्र ही मां को खो दिया
18 साल के शंकर कर्नाटक के बीजापुर के रहने वाले हैं। छोटी उम्र में ही शंकर ने अपनी मां को खो दिया था। उसके बाद से उनके एक चाचा उनको सपॉर्ट कर रहे हैं। शंकर ने बताया कि अनिल कुंबले और राशिद खान उनके फेवरिट हैं। फिलहाल वह बीजापुर के ही एक सेंकड डिविजन क्लब से क्रिकेट खेल रहे हैं और पार्ट टाइम जॉब करके घर चला रहे हैं।

अफगानिस्तान की प्रैक्टिश देखने रोज जाते हैं 
न्यूज वेबसाइट स्पोर्ट्स स्टार के मुताबिक, शंकर ने बताया कि वह रोज अफगानिस्तान टीम की प्रैक्टिस देखने चिन्नास्वामी स्टेडियम जाया करते थे। एक दिन स्टेडियम से जुड़े एक अधिकारी ने उन्हें देखा और मेहमान टीम को गेंदबाजी करने को कहा। शंकर के मुताबिक, अफगानिस्तानी खिलाडिय़ों ने उनकी गेंदबाजी की तारीफ की और कहा कि उनका भविष्य जरूर उज्जवल होगा।

Facebook Comments