उग्रवादियों को लेवी देने जा रहे बीड़ी पत्ता व्यापारी के तीन कर्मी गिरफ्तार

कोडरमा: तिलैया पुलिस ने गया पुलिस की सूचना पर मंगलवार को उग्रवादियों को लेवी की रकम देने जा रहे बीड़ी पता व्यापारी के तीन कर्मियों को पुलिस ने धर-दबोचा है। इनके पास से पुलिस ने लेवी के दो लाख रुपए सहित तीन मोटरसाइकिल और मोबाइल बरामद किए हैं। गिरफ्तार लोगों में वसीम, आदिब (दोनों उतर प्रदेश कन्नौज) और इरशाद हजारीबाग के हैं।

मिली जानकारी के अनुसार गया पुलिस को सूचना मिली थी कि गझंडी जंगल में झारखंड-बिहार की सीमा पर मगध जोन का एरिया कमांडर प्रद्युमन शर्मा बीड़ी पत्ता व्यवसायियों से लेवी की रकम लेने जा रहा है। सूचना पर कोडरमा पुलिस की एक टीम थाना प्रभारी राजवल्लभ पासवान के नेतृत्व में गझंडी जंगल के रास्ते में आने जाने वालों पर नजर रखे हुए थे करीब 6:00 बजे तीन मोटरसाइकिल पर सवार इन लोगों को पुलिस ने संदिग्ध अवस्था में देख रोककर उनसे पूछताछ की। इसमें तीनों ने लेवी देने जाने की बात बताई। इसमें दो के पास से दो लाख रुपए भी बरामद किए गए है।

पकड़े गए युवकों ने बताया कि लेवी की रकम लेने आए माओवादी विकास यादव उर्फ राहुल सहित दो अन्य जो मोटरसाइकिल से साथ-साथ चल रहे थे। जंगल का फायदा उठाकर भागने में सफल रहें। पकड़े गए तीनों युवक माओवादी एरिया कमांडर प्रद्युमन शर्मा से मोबाइल पर बात करते जा रहे थे। इन्हें गझंडी स्थित बिहार- झारखंड के बार्डर पर लेवी की रकम पहुंचानी थी। इस संबंध में तिलैया थाने में भादवि की धारा 17 सीएलए एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने पकड़े गए तीनों युवकों को जेल भेज दिया है।

लेवी नहीं देने पर खलिहान में लगा दी थी आग

उग्रवादियोंको लेवी देने के आरोप में पकड़े गए तीनों युवक उत्तर प्रदेश के अमरोहा में जलवा बीड़ी कंपनी के मालिक आदिल परवेज के कर्मचारी है। जानकारी के अनुसार कंपनी ने इस बार नावाडीह और कडम्बा जंगल की बंदोबस्ती ली गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उग्रवादियों द्वारा मांगी गई लेवी नहीं देने के कारण मई-जून में बीड़ी पत्ता के खलिहान में आग भी लगा दी थी। सूत्रों की मानें तो बीड़ी पत्ता के व्यापारियों से उग्रवादियों द्वारा लाखों रुपए की लेवी हर वर्ष वसूल की जाती है। बिना लेवी दिए जंगल में पत्ता की तोड़ाई का कार्य संभव नहीं हो पाता है। जिले में उग्रवादियों का नेटवर्क करीब एक दशक पूर्व ध्वस्त हो चुका है। बावजूद इसके केंदु पत्ता के व्यापारियों से उग्रवादियों द्वारा लेवी वसूला जाता है। इसका प्रमुख कारण यह है की जंगल का इलाका बिहार अन्य जिलों से पूरी तरह सटा है। जिसमें उग्रवादियों की सक्रियता है।

पकड़े गए तीनों युवक

Facebook Comments