भ्रष्टाचार के मामले में नवाज शरीफ को 10 और बेटी मरीयम को 7 साल की सजा

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम की मुश्किलें बढ़ गई है। भ्रष्टाचार के मामलों पर नवाज शरीफ को कोर्ट ने झटका देते 10 साल की सजा सुनाई है वहीं उनकी बेटी मरीयन को 7 साल की सजा सुनाई है।

कोर्ट ने आज इस मामले पर अपना फैसला सुना दिया है। इस फैसले के बाद नवाज और उनकी बेटी मरियम का चुनाव लड़ने का सपना भी अधूरा रह गया है। लंदन में ‘अवैध ढंग से’ हासिल की गई संपत्ति केस में यह फैसला आया है। इस फैसले के बाद अब मरियम का राजनीतिक भविष्य दांव पर लग गया है।
फैसला 1 हफ्ते देरी से सुनाने की की थी अपील
पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने अदालत में आज के फैसले को एक हफ्ते देरी से सुनाने की अपील की थी।उन्होंने कहना था कि वह इस मामले का फैसला अदालत कक्ष में मौजूद रहकर सुनना चाहते हैं जहां वह अपनी बेटी के साथ 100 से ज्यादा सुनवाइयों में शामिल हुए हैं। शरीफ और मरियम की ओर से दायर इसी तरह के आवेदनों में अधिवक्ता ने शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज की खराब सेहत का हवाला देकर शरीफ परिवार के फैसले के वक्त मौजूद न रह सकने का कारण बताया था लेकिन  अदालत ने आज उनका इस याचिका को खारिज कर दिया था।
अभी लंदन में है नवाज और उनकी बेटी
शरीफ और उनकी बेटी मरियम पाकिस्तान से 14 जून को लंदन के लिए रवाना हुए थी। इन दोनों के खिलाफ चल रहे भ्रष्टाचार के मुकदमे से कुछ समय के लिए छूट दी गई है थी। लंदन में नवाज शरीफ का पत्नी कुलकुसम का इलाज चल रहा है। शरीफ के जाने से पहले एेेसे कयास  लगाए जा रहे थे कि लंदन जाने के बाद वह शायद ही वापिस ना आए।
पाक चुनाव लड़ने की तैयारी में थी मरीयम
पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव में पाकिस्तान मुस्लिम लीग की नेता और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम शरीफ दो सीटों से चुनाव लड़ सकती थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, मरियम लाहौर की एनए-127 और पंजाब विधानसभा की पीपी-173 सीट से नैशनल असेंबली के चुनाव में उतर सकती था।  पर इस संबंध में  मरियम की ओर से अभी इस खबर की पुष्टि नहीं की गई थी।
पंजाब केसरी 

Facebook Comments